ukmrc recruitment 2019

27 नक्षत्रों के आधार पर गृहवाटिका, मसाला वाटिका और पर्यावरण वाटिका बनाया गया है। मसाला वाटिका में बड़ी इलायची, मोथा ,सौंफ , हींग, करौंदा, जीरा , तेजपत्र ,दालचीनी लौंग, कोकम आदि के पौधे लगाए गए हैं। गृह वाटिका में घृतकुमारी, शतावर, बच, वासा, पत्थरखडा, पोइ, मुलहठी, कपूर, तुलसी, सदाबहार, अश्वगंधा, हठजोड़, कालमेघ समेत अन्य कई जड़ी बूटियां रोपी गई हैं। वहीं अन्य वाटिका में औषधीय पौधे भी काफी संख्या में हैं। जिसमें कपूर , तेजपत्र , दालचीनी, कालीमिर्च, लौंग, हींग अलावे खैर , गूलर, पलास, रुद्राक्ष आदि शामिल है।