स्वस्थ्य वभग हेल्पलइन नंबर

एसएनसीयू में 12 वार्मर हैं। इसके अलावा चार अतिरिक्त नए वार्मर भी दिए गए हैं। इनमें से पांच वार्मर खराब हंै। हालांकि इसकी जानकारी एसएनसीयू के प्रभारी को नहीं है। तीन वार्मर के बल्ब तो जलते हैं, लेकिन तापमान नहीं बढ़ता है। एसएनसीयू में वैसे बच्चे को भर्ती किया जाता है, जिन्हें जांडिस, चमकी और सांस लेने में परेशानी होती है।