रज जसवंत संह

रामपुर में चौतरफा अतिक्रमण की वजह से सड़कें संकुचित होती जा रही हैं। हर सड़क व बाजार के साथ ही अब तिराहे भी इसकी जकड़ में हैं। फुटपाथ तक फैली दुकानों में लगातार बढ़ोतरी हो रही हैं, जिससे तिराहे का आकार भी सिमटता जा रहा है। बरसठी तिराहे से सुल्तानपुर तिराहे को जोड़ने वाला पुरानी बाजार की सड़क तिराहे तक अतिक्रमण की चपेट में है। स्थिति इतनी खराब है कि यहां पैदल चलना भी मुश्किल हो गया है। मुख्य बाजार से होकर प्रतिदिन हजारों की संख्या में दर्शनार्थी विध्याचल धाम जाते हैं। बावजूद इसके व्यवस्था में सुधार नहीं हो पा रहा है।