railways recruitment latest news

श्रीनगर निर्वाचन क्षेत्र के बाहरी छोर पर पंजीनारा इलाके में मतदान केंद्र संख्या 35-बी में 82 वर्षीय अजी बेगम कड़ाके की ठंड की परवाह किए बिना अपने शौहर 86 वर्षीय अब्दुल जब्बार का हाथ पकड़कर वोट डालने पहुंचीं। उनकी आंखों में रोशनी नहीं है, लेकिन अंतर्मन की खुशहाली और अपनी नई पीढ़ी की तरक्की का सपना खुले मन से देखती हैं। वह कहती हैं कि विकास और बेरोजगारी दूर करने के लिए उन्होंने वोट किया है। वह मधुमेह की मरीज हैं और 15 साल पहले आंखों की रोशनी चली गई थी। तब हमारे इलाके में पानी की दिक्कत थी, सड़कें कच्ची थी, पर आज भी हालात वैसे के वैसे ही हैं। आज भी हमारे इलाके के लोग बेहतर सड़कों व पानी के लिए तरसते हैं। हमने विकास और खुशहाली के लिए वोट दिया है ताकि जो तकलीफें हमने झेलीं, वह आज की पीढ़ी न सहे। सुन नहीं, पर सब समझती हैं राजा बेगम