पुस्तकलय अध्यक्ष

उन्‍होंने कहा हम किसी एक परिवार का नहीं बल्कि परिवारवाद का विरोध कर रहे हैं। अमित शाह ने संसद में कहा कि देश में किसी आम आदमी को प्रधानमंत्री से भी ज्यादा सुरक्षा की आवश्यकता हो सकती है। रामजन्मभूमि आंदोलन के दौरान अशोक सिंघल को भी सुरक्षा की जरूरत थी, लेकिन उनको तो एसपीजी नहीं दी गई न? उन्‍होंने कहा कि इस देश में किसी भी व्यक्ति को खतरा हो सकता है लेकिन हम हर किसी को तो एसपीजी नहीं दे सकते हैं। एसपीजी सुरक्षा सिर्फ देश के प्रधानमंत्री के लिए होना चाहिए।