पन सेक्स मूव

जिले भर में पांच लाख 80 हजार 981 कार्डधारक हैं। इसमें से 74 हजार के करीब अंत्योदय के कार्डधारक हैं, बाकी के पात्र गृहस्थी कार्डधारक हैं। इन सभी कार्डधारकों को प्रति यूनिट पर पांच किलो राशन देने का निर्णय सरकार ने लिया है। इसमें गेहूं व चावल कार्डधारकों को मिलेगा। कोरोना के भय से तमाम प्रवासी घर आ रहे हैं। आमदनी बंद होने से उनका परिवार आर्थिक संकट से गुजर रहा है। ऐसे में कहीं न कहीं निश्शुल्क मिलने वाला राशन से उनके परिवार के लोगों को दो जून का भोजन नसीब हो सकेगा। इसे लेकर शासन के अफसर राशन आवंटन की तैयारी कर रहे हैं। हालांकि खाद्य विभाग के अफसरों को भी शासन से इनपुट मिला है। इसे लेकर वह भी तैयारी में जुटे हैं। क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी एसके पांडेय ने बताया कि कार्डधारकों को निश्शुल्क राशन दिए जाने की जानकारी मिली है, लेकिन शासन से अभी तक इस संबंध में कोई पत्र नहीं आया है। पत्र आते ही उस पर अमल किया जाएगा।