फन पे से मबइल रचर्ज कैसे करें

बीते एक अप्रैल से नया सत्र शुरू होने के बाद से स्कूल-कालेजों में आफलाइन पढ़ाई शुरू नहीं हो सकी। कोरोना के तीसरी लहर को लेकर लोग सशंकित हैं। इस कारण स्कूलों के जल्द खुलने के आसार भी नजर नहीं आ रहे हैं। देखा जाए तो आईसीएसई ओर सीबीएसई के बच्चों की पढ़ाई कोरोना काल में अधिक प्रभावित नहीं हुई है, क्योंकि उनकी ऑनलाइन कक्षाएं बेहतर ढंग से संचालित की गईं और स्कूलों ने इस बार गर्मी की छुट्टियां भी नहीं की हैं। पाठ्यक्रम निर्धारित न होने के चलते कुछ स्कूल गत वर्ष की कटौती के अनुसार बच्चों की पढ़ाई करा रहे हैं, जबकि कुछ पूरा सिलेबस पढ़ा रहे हैं। वहीं यूपी बोर्ड के अधिकांश स्कूलों में पढ़ाई लिखाई पटरी पर नहीं आ सकी है। जबकि जिला विद्यालय निरीक्षक ने सभी को प्रधानाचार्यो को ऑनलाइन पठन-पाठन का कार्य शुरू कराने का निर्देश जारी किया है।