pandit deendayal upadhyay recruitment

पहले भी बयानों को लेकर हो चुकी हैं चर्चित इससे पहले चुनाव के दौरान साध्‍वी प्रज्ञा ठाकुर कई और बयानों के लिए चर्चित हो चुकी हैं। उनके बयानों के कारण ही चुनाव आयोग उनके खिलाफ 72 घंटे तक चुनाव प्रचार करने पर रोक लगा चुका है। अयोध्या में राम मंदिर और महाराष्ट्र के शहीद वरिष्ठ पुलिस अधिकारी हेमंत करकरे को लेकर भी बयान दिया था। साध्वी प्रज्ञा ने कहा था कि मुंबई हमले में शहीद हुए आइपीएस हेमंत करकरे को संन्यासियों का श्राप लगा और मेरे जेल जाने के करीब 45 दिन बाद ही वह 26/11 के मुंबई आतंकी हमले का शिकार हो गए। शहीद आइपीएस हेमंत करकरे को साध्वी ने कथित तौर पर देशद्रोही कहा था।