panchayati raj bihar recruitment 2016

प्रल्हाद सिंह राजपूत मध्य प्रदेश के सागर जिले के गौरझामर के घोसी पट्टी गांव के रहने वाले हैं। अटारी सीमा पर अपने भाई वीर सिंह को देखकर वे पहचान नहीं पाए। जब वीर सिंह ने उन्हें 'बड़े भइया मैं छोटा भाई वीर सिंह' कहा तो प्रलहाद सिंह के चेहरे पर चमक आ गई। दोनों एक-दूसरे के गले लगे। अब प्रलहाद 56 वर्ष के हो चुके हैं। चेहरे पर झुरियां व सफेद बाल देखकर छोटा भाई दंग रह गया।