नरसंहपुर मंड गुड़ के भव

लक्ष्मणपुर विकास खंड के पूरे गुलाबराय गांव निवासी राम मिलन शुरुआत से ही पढ़ने में मेधावी रहे। वर्ष 1997 में जीजीआइसी सांगीपुर में वह बतौर हिदी शिक्षक तैनात किए गए। वर्ष 2001 में शहर के राजकीय बालिका इंटर कालेज में आ गए। तब से यहीं बालिाओं को पढ़ा रहे हैं। हर वर्ष वह दो गरीब बालिकाओं को गोद लेकर उसकी पढ़ाई लिखाई का खर्च उठा रहे हैं। अब तक दो दर्जन से अधिक बालिकाओं की शिक्षा दीक्षा का जिम्मा उन्होंने उठाया है। बालिकाओं की फीस से लेकर उनकी पढ़ाई में आने वाले सारे खर्च को खुद वहन कर रहे हैं। इसके साथ ही समाज के गरीब वर्ग की मदद करने के लिए उन्होंने यादव समाज ट्रस्ट बनाया। इसके जरिए वह स्वयं गरीबों की मदद करने के साथ ही दूसरों से भी मदद कराने का पूरा प्रयास करते हैं। उनका साहित्य से भी गहरा जुड़ाव रहा है। कोरोना काल में उन्होंने डीआइओएस द्वारा बनाए गए ग्रुप पर प्रतिदिन नई-नई कविताओं के जरिए छात्र-छात्राओं व शिक्षकों को जागरूक किया।