new railway recruitment for engineers

- पांच ब्लॉकों में 1060 पियर एजूकेटर हैं जिनमें हर गांव में दो स्कूल जाने वाले व दो स्कूल न जाने वाले किशोर-किशोरी शमिल हैं। यह पहले हम उम्र किशोर-किशोरियो और फिर अपने परिवार सहित अन्य लोगों को जागरूक करेंगे। श्रीदत्तगंज के इटईमैदा की पूजा वर्मा ने बताया कि पहले स्वास्थ्य एवं सफाई के प्रति सचेत करना था, लेकिन अब शारीरिक दूरी बनाए रखने, बार-बार हाथ धुलने, भीड़ से बचने के लिए प्रेरित करना है। राजकुमार, पडरी रामनाथ की कोमल, नैन्सी भी अब अलख जगाने में जुट गए हैं। जिम्मेदार के बोल: