ncb recruitment 2019 junior intelligence officer

रामसनेहीघाट, (बाराबंकी): देश की अर्थव्यवस्था की मजबूती में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले किसान अपने भविष्य को लेकर चितित हैं। इसको लेकर उन्होंने अपना एजेंडा भी तैयार कर रखा है, जिसे वह वोट मांगने आने वाले प्रत्याशियों के समक्ष रख रहे हैं। बेसहारा पशुओं से फसलों को बचाने की चिता ही नहीं वह समाधान भी बताते हैं। उनका सुझाव है कि गांव की पशुचर की जमीन को चिह्नित कर गो आश्रय स्थल बनवा दिए जाएं। इससे फसलों की सुरक्षा के साथ ही स्वार्थी पशुपालक भी चिह्नित किए जा सकेंगे। प्रत्येक किसान की फसलों की समर्थन मूल्य पर खरीद सुनिश्चित कराने और स्थानीय स्तर पर बाजार मुहैया कराने की भी मांग उनके एजेंडे में है। प्रस्तुत है रिपोर्ट..