mhrd account assistant recruitment

इधर, लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के थिंक-टैंक का अहम हिस्सा, गांधी परिवार के करीबी पार्टी नेता सैम पित्रोदा का मानना था कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने का फैसला करती, तो यह अच्छी बात होगी। उन्‍होंने कुछ दिनों पहले दैनिक जागरण को दिए एक इंटरव्‍यू में कहा था कि सबसे पहले तो यह प्रियंका गांधी का फैसला होगा। हम अपने विचार बोल सकते हैं। मगर चुनाव लड़ने या नहीं लड़ने का फैसला उन्हें लेना है। अगर वह चुनाव लड़ने का फैसला करती हैं तो अच्छी बात है। कांग्रेस पार्टी और उसके कार्यकर्ता बेहद उत्साहित होंगे। मैं आश्वस्त हूं कि देश भी उत्साहित होगा और एक बेहद जबरदस्त मुकाबला देखने को मिलेगा। वाराणसी के लोग उनके लिए कड़ी मेहनत करेंगे मगर यह निर्णय उनका होगा। पित्रोदा के बयान से साफ जाहिर होता है कि वह भी प्रियंका बनाम मोदी की चुनावी जंग के पक्ष में थे।