मड़ बैलेंस मनंग इन हंद

ग्राम पंचायत पतौजा के मजरा कोठी में एक सप्ताह पूर्व बुखार से रामप्रकाश की पत्नी राजकुमारी, बुधवार को छन्नूलाल सक्सेना की 18 वर्षीय पुत्री पायल और गुरुवार को सरदार सिंह की पत्नी सगुना देवी ने दम तोड़ दिया। ग्रामीणों का कहना है कि करीब एक सप्ताह से अधिक समय से गांव के लोग बुखार से पीड़ित चल रहे हैं। यहां जगह जगह गंदगी के ढेर लगे हैं। गांव में स्वास्थ्य टीम न पहुंचने से लोग झोलाछाप से इलाज करा रहे हैं। ग्रामीण रजनीश कुमार ने बताया कि ग्राम प्रधान अजय कुमार को सूचना देने के बावजूद आज तक कोई सफाई कर्मचारी नहीं आया है। पीड़ित झोलाछाप के यहां डेरा डाले हैं। गांव की सिमरन के घर पर ही झोलाछाप ने ड्रिप लगा दी। तेज सिंह एक खेत के किनारे झोलाछाप के यहां अपना इलाज करा रहे हैं। गांव मूसाखिरिया में भी बुखार से रिशोद कटियार, सीमा कटियार, शनि कटियार, रजनेश कटियार, सोमू कटियार, निधि कटियार समेत आधा सैकड़ा लोग बुखार से पीड़ित हैं। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डा. सोमेश अग्निहोत्री ने बताया कोठी गांव में बुखार फैलने की अभी तक किसी ने कोई सूचना नहीं दी है। शनिवार को चिकित्सीय टीम भेजकर जांच व दवा वितरण कराया जाएगा।