कशर नगर ज के प्रवचन

राम कुमार पेशे से गांव का कोटेदार था। करीब साल भर से उनका दिमागी संतुलन बिगड़ गया था। इलाज भी चल रहा था। घटना से उसके स्वजन गमगीन हैं। परिवार के लोग रो-रोकर बेहाल हैं। राम कुमार के रेलवे ट्रैक पर पहुंचने को लेकर स्वजन असमंजस में हैं।