kerala post office recruitment 2020

इस संबंध में जानकारी देते हुए स्वच्छ भारत मिशन के अधिकारी गिरीश माथुर ने बताया कि गांव में ड्रेनेज की अच्छी प्लानिंग नहीं होने की वजह से सारा गंदा पानी तालाब में जाता था. इसके चलते तालाब का पानी भी काफी दूषित होता था और इसके साथ ही भूमिगत जल की गुणवत्ता भी प्रभावित हो रही थी. प्लांट के बन जाने से पानी का स्तर काफी सुधरा है.