keolis hyderabad recruitment 2020

बेतिया। आखिरकार लोगों ने कोरोना के संग जिदगी गुजारने का तोड़ निकाल ही लिया। कोरोना से बचाव को लेकर लोगों में आई जागरूकता का हीं परिणाम है कि प्राइवेट ट्रांसपोर्ट से लोग परहेज करने लगे हैं। खुद के वाहन से हीं यात्रा करने के बारे में सोच रहे हैं। चूंकि सरकार की ओर से भी यह कहा जा चुका है कि अब शारीरिक दूरी बनाकर और मास्क लगाकर हीं जिदगी गुजारनी होगी। सो, लोग अब स्वयं को उसके अनुरूप तैयार कर रहे हैं। एक पड़ताल में यह बात सामने आई है कि अनलॉक वन के दस दिनों में पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष 50 फीसद अधिक बाइक की बिक्री हुई। बाइक की ओर लोगों का रूझान बढ़ा है। कोरोना संक्रमण के दौर में बाइक सुरक्षित सवारी भी है। इससे अपने परिवार एवं नाते रिश्तेदारों के साथ यात्रा की जा सकती है। जबकि बस, ट्रेन व अन्य साधनों से यात्रा में कोरोना संक्रमण का खतरा दिख रहा है। जिले के विभिन्न बाइक एजेंसियों में ग्राहकों की भीड़ देखी जा सकती है। हालांकि लॉकडाउन के दौरान एजेंसी बंद रहने के कारण बाइक एजेंसी के संचालक काफी नुकसान में हैं। वे इसकी भरपाई के लिए सरकारी मदद की उम्मीद भी लगाए बैठे हैं। इस बीच, बाइक यूजर्स की बढ़ रही संख्या थोड़ी राहत अवश्य पहुंचाएगी।