जल व्यपर एवं उद्यग केन्द्र bhopal madhya pradesh

आजकल ब्रैंड का लोगो पहचानना इतना आसान नहीं रह गया है। फेक ब्रैंड्स बड़ी सफाई से लोगो को कॉफी कर लेते हैं। हालांकि, इसके बावजूद असली लोगो और नकली में थोड़ा फर्क ज़रूर होता है। वह इसलिए क्योंकि ब्रैंड्स लगातार अपने लोगो में बदलाव करते रहते हैं और साथ ही काफी डीटेल में बनाते हैं। इसके अलावा ब्रैंड्स के लोगो अच्छी क्वालिटी के मेटल या फिर लेथर से बने होते हैं वहीं, नकली प्रोडक्ट्स में या तो लोगो होगा ही नहीं या फिर सस्ती क्वालिटी का लोगो होगा।