जड गन न news paper1 july

संवाद सहयोगी, बिलावर : यहा तहसील की तरक्की और खुशहाली के बड़े-बडे़ दावे किए जाते हैं लेकिन आजादी के सत्तर वर्ष बाद भी महिलाओं को एक बाल्टी पानी के लिए अपर दरालता में दो किलोमीटर का सफर कर बावलियों से पानी लाना पड़ रहा है। सड़क का आज भी लोगों के जीवन में अभाव है। जिन्हे बाप दादाओं द्वारा बनाई गई टक्कियों पर चलना पड़ रहा है। इलाके के लोग आज भी विकास विकास से वंचित हैं।