j7 मबइल सैमसंग

वहीं उनके दूसरे भाई पिराने फकीर वर्तमान में यूथ कांग्रेस के जिलाध्यक्ष हैं। वे जैसलमेर पंचायत समिति से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव मैदान में डटे हैं। दो अन्य भाई अब्दुल्ला वे शेर फकीर भी कांग्रेस के खिलाफ चुनाव मैदान में उतर गए । भाजपा में टिकट वितरण को लेकर जयपुर ग्रामीण,अजमेर,दौसा व कोटा जिलों से टिकट वितरण में गड़बड़ी की शिकायत पार्टी आलाकमान तक पहुंची है ।