हंद में बलने वल सेक्स फल्में

किसानों का हुजूम अब दिल्ली में प्रवेश कर चुका है। कुछ किसान 7 आरसीआर स्थित प्रधानमंत्री आवास तक पहुंच गए। बताया जा रहा है कि पीएम हाउस तक जाने वालों में आम आदमी पार्टी (आप) के कुछ नेता भी शामिल थे। पुलिस ने किसानों और आप नेताओं को हटाया। बता दें कि 'दिल्‍ली चलो' मार्च के तहत पंजाब और हरियाणा के हजारों किसान निकल पड़े हैं। हरियाणा में कई जगहों पर किसानों को रोका गया है। न मानने पर पानी की बौछारें और आंसू गैस के गोले भी छोड़े जा रहे हैं। बॉर्डर पर सघन चेकिंग अभियान से ट्रैफिक व्‍यवस्‍था चरमरा गई है। दिल्ली के अंदर पहुंचे किसानसोनीपत के कुंडली में ट्रकों और ट्रैक्टरों की लंबी लाइन लगी हुई है। पंजाब से काफी तादाद में लोग राशन लेकर आए हैं। दिल्ली में किसान एंटर हो गए हैं। पुलिस की एक बैरिकेडिंग तोड़ दी गई है। कई लेयर की बैरिकेडिंग है। अभी सोनीपत कुंडली से कुछ ट्रैक्टर पहली लेयर पार कर गए हैं। लेकिन बाकी अभी कुंडली की तरफ ही हैं... लगातार आंसू गैस छूटने से आंदोलनकारी आगे नहीं बढ़ पा रहे हैं।पुलिस के साथ किसानों की हुई हिंसक झड़पप्रदर्शनकारियों में आप नेता भी शामिलपीएम हाउस के सामने हुए किसानों के साथ प्रदर्शन में कई आप नेता भी शामिल रहे।सिंघू बॉर्डर पर पुल‍िस ने दागे आंसू गैस के गोलेदिल्‍ली ट्रैफिक पुलिस ने अलर्ट जारी कर लोगों से मुकरबा चौक को अवॉयड करने की अपील की है। सिंघू बॉर्डर की तरफ गाड़‍ियों को नहीं जाने दिया जा रहा है। पुलिस ने इंटरस्‍टेट गाड़‍ियों को वेस्‍टर्न/ईस्‍टर्न पेरिफेरल एक्‍सप्रेसवे से जाने की सलाह दी है। बॉर्डर वाले एरियाज में भारी पुलिस फोर्स तैनात है। दिल्‍ली ट्रैफिक पुलिस ने अलर्ट जारी कर लोगों से मुकरबा चौक को अवॉयड करने की अपील की है। सिंघू बॉर्डर की तरफ गाड़‍ियों को नहीं जाने दिया जा रहा है। पुलिस ने इंटरस्‍टेट गाड़‍ियों को वेस्‍टर्न/ईस्‍टर्न पेरिफेरल एक्‍सप्रेसवे से जाने की सलाह दी है। बॉर्डर वाले एरियाज में भारी पुलिस फोर्स तैनात है।यूपी में भी भड़की आंदोलन की चिंगारीउत्तर प्रदेश के किसान भी पंजाब-हरियाणा के किसानों के साथ मैदान में उतरने वाले हैं। माना जा रहा है कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में हजारों की संख्या में किसान आने वाले हैं। ये दिल्ली-देहरादून राजमार्ग को जाम करेंगे। इस बीच, केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा है कि तीन दिसंबर को वो किसानों से बात करेंगे। किसानों की मांग है कि पीएम उनसे बात करें।