hindi news न य ज इन ह न द

मधुबनी, जासं। कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग अलर्ट मोड में आ गया है। तीसरी लहर का बच्चों पर अधिक असर पड़ने की आशंका से मुकाबला के लिए खास तैयारी की गई है। बच्चों पर कोविड के असर की आशंका को लेकर एसएनसीयू में 15 बेड व शिशु वार्ड में नौ बेड बच्चों के इलाज के लिए सुरक्षित किए गए हैं। वहीं, जिले के रामपट्टी कोविड केयर सेंटर के 100 बेड तथा 150 बेड वाले डेडिकेटेड कोविड हेल्थ केयर के 10 फीसद बेड बच्चों के लिए सुरक्षित किए गए हैं। सदर अस्पताल में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर उपलब्ध कराई गई है। बच्चों को दी जाने वाली सभी दवाएं उपलब्ध हैं। इन दिनों अस्पताल में प्रतिदिन 15 से 20 बच्चे सर्दी, खांसी, बुखार से संक्रमित पहुंच रहे हैं।