hindi news द सर

गोपालगंज। बाल्मिकी नगर बराज से पानी छोड़े जाने का सिलसिला तेज होने के साथ ही गंडक नदी उफान पर आने लगी है। गंडक नदी का जलस्तर बढ़ने से निचले इलाकों में पानी तेजी से फैलने लगा है। रविवार की रात कुचायकोट प्रखंड के कालामटिहिनिया पंचायत के दो वार्डों में नदी का पानी घुस गया। जिससे इन दोनों गांवों में अफरा तफरी मची हुई है। इस बीच गंडक नदी का जलस्तर बढ़ने से सदर प्रखंड के खैरटिया रामनगर की स्थित और बिगड़ गई है। इसके साथ की नदी के कटाव से सदर प्रखंड के जगीरी टोला में खेत और घरों का नदी में विलीन होते जा रहे हैं। इस टोली में अब तक 45 घर नदी में विलीन हो चुके हैं। गंडक नदी के उफान पर आने दियारा इलाके के निचले इलाके के बसे गांवों में दहशत व्याप्त हो गया है। ग्रामीण अपना घर छोड़ कर पलायन कर रहे हैं। पानी में डूबने से निचले इलाके के गांवों का संपर्क भंग हो जाने से ग्रामीणों की मुसीबत बढ़ती जा रही है। ग्रामीण बाढ़ के पानी के बीच से सामान सहित घर छोड़ कर ऊंचे स्थान पर शरण ले रहे हैं। नदी के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए प्रशासन भी अलर्ट हो गया है। तटबंध पर तैनात होमगार्ड के जवान तथा पदाधिकारी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। पानी से घिरे गांवों में लिए प्रशासन के स्तर पर नाव की व्यवस्था की जाने लगी है।