गुरु ह ब्रह्म गुरु ह वष्णु

डॉ. गुरुदत्त सिंह, सिरसागंज 'फास्टैग की पांच लाइनें चल रही हैं। हमने तो टैम्परेरी दो लाइन बिना फास्टैग के लिए खोल रखी हैं। इन्हें कभी भी बंद किया जा सकता है। वाहन स्वामी कहीं से भी कार्ड बनवा सकता है। बैंकों के साथ ही पेटीएम भी फास्टैग की सुविधा दे रहा है। परेशानी के बचने के लिए फास्टैग जल्दी बनवा लें। एम्बुलेंस को निकालने की सुविधा दी जा रही है।'