gujarat police si recruitment 2017

छात्रों का कहना था कि छात्रावास में पानी के चार टैंक हैं जिसमें से दो संयोजन अधीक्षक द्वारा अपने आवास में लगाए गए हैं। सुबह पानी आते ही पहले इन टैंकों को भरा जाता है। शेष दो टैंकों में पानी भरने के समय तक आपूर्ति बंद हो जाती है। इसी तरह शौचालयों के दरवाजे टूटे हैं। अधीक्षक से इसकी शिकायत करने पर एडजस्ट करने की नसीहत दी जाती है। छात्रों ने जिलाधिकारी से छात्रावास की जांच करते हुए कार्यवाही की मांग की है। छात्रों ने कहा कि प्रवेश शुल्क और प्रतिवर्ष नवीनीकरण के नाम पर शुल्क लिया जाता है नहीं देने पर छात्रावास से निकालने की धमकी दी जाती है।