csdb recruitment 2017 syllabus

अधीक्षक ने कहा कि इस ट्रेनिंग में 11 जिलों के 24 डॉक्टर एवं नर्स प्रतिभागी भाग ले रहे हैं। इनमें किशनगंज, अररिया, मधुबनी, वैशाली, मधेपुरा, पुर्णिया, शिवहर, बेगुसराय, सहरसा, दरभंगा और मोतिहारी जिलों के चिकित्सक शामिल हैं। पहले दिन प्रशिक्षणार्थियों को नवजात शिशुओं को कैसे पुनर्जीवित किया जाए, इसका प्रशिक्षण हैंड ऑन पद्धति के द्वारा दिया गया। प्रशिक्षण कार्य में चार प्रशिक्षक लगाए गए हैं। उनमें डॉ. केएन मिश्रा, डॉ. अशोक कुमार, डॉ. रिजवान हैदर और डॉक्टर ओमप्रकाश शामिल हैं। चिकित्सकों ने बताया कि सरकार किसी भी कीमत पर नहीं चाहती है कि बच्चों की देखभाल में किसी भी स्तर पर कोई लापरवाही हो। इस कारण से चिकित्सक व कर्मियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। ताकि, हर स्थिति से निबटा जा सके।