बप ने बेट क कंडम लगकर चद

कोरोना संक्रमण से लोग दशहत में हैं। जिले में कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद लोग घर से बाहर निकलने से डर रहे हैं। परंतु, साहब तो साहब हैं! उन्होंने फरमान जारी कर दिया है कि जब तक वे ऑफिस में रहेंगे सबको रहना होगा। घर एवं ऑफिस एक जगह रहने के कारण साहब की तो बल्ले-बल्ले है, लेकिन वहां पदस्थापित कर्मियों को साहब के इस फरमान बिल्कुल रास नहीं आ रहा। दबी जुबान में कर्मी चर्चा कर रहे हैं कि लॉकडाउन के दौरान कुछ दिन घर पर क्या बिता लिए, साहब खफा गए। काम को जल्दी-जल्दी खत्म कराने के चक्कर में रहते थे, इस कोरोना काल में साहब ने देर रात तक कार्य करने का फरमान जारी कर दिया। साहब को कौन बताए कि देर रात तक कार्य करने के बाद वापस घर जाने में पुलिस के सामने कितने पापड़ बेलने पड़ रहे हैं। ऊपर से घर की टेंशन अलग।