बलम ज आई लव यू भजपुर फल्म download

संसदीय क्षेत्र शिमला में दो पूर्व सैनिक आमने-सामने हैं। भाजपा ने इस बार सांसद वीरेंद्र कश्यप की जगह पच्छाद के विधायक सुरेश कश्यप को मैदान में उतारा है। वह दूसरी बार विधायक बने हैं। कांग्रेस ने पूर्व सासंद व सोलन के विधायक धनीराम शांडिल को प्रत्याशी बनाया है। कश्यप वायुसेना से सेवानिवृत्त हुए हैं, जबकि शांडिल कर्नल रहे हैं। शांडिल दो बार सांसद रहे हैं। पहली बार हिमाचल विकास कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीते थे। दूसरी बार कांग्रेस के टिकट पर सांसद बने हैं। शिमला संसदीय क्षेत्र में वीरभद्र सिंह का दबदबा रहा है, लेकिन इस बार भाजपा ने सिरमौर से प्रत्याशी उतार कर मुकाबले को कड़ा बना दिया है। ऊपरी शिमला कांग्रेस का गढ़ रहा है। रामपुर से कई बार विधायक रहे सिंघी राम कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हो चुके हैं।