अकर मक क र य in hindi

भुरचुनियार धार में सौ परिवार रहते हैं। वह प्रतिदिन पानी के लिए जूझते हैं। गर्मियों में उनकी दिक्कतें बढ़ जाती हैं। पूर्व पालिकाध्यक्ष गीता रावल के कार्यकाल में वहां एक नल था। जिसे अब बंद कर दिया गया है। महिलाओं और बच्चों को पानी की व्यवस्था की जिम्मेदारी है। पुरुष वर्ग मजदूरी कर जीवन यापन कर रहे हैं। हैंडपंप से वह पानी भरते हैं। गोमती नदी में कपड़े धाने और नहाने जाते हैं। सामाजिक कार्यकर्ता भीम कुमार ने कहा कि हर घर नल से जल योजना से भी वह वंचित हैं। ये कहतीं हैं महिलाएं