आईसर ट्रक क कमत

गंगा और यमुना का पानी भी पीने योग्य नहीं रह गया है। केंद्रीय जल आयोग की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक देश के 91 बड़े जलाशयों में पानी कुल क्षमता का 22 प्रतिशत बचा है जो पिछले साल के मुकाबले 15 प्रतिशत कम है और पिछले दस साल के औसत से 10 प्रतिशत कम है। दक्षिण भारत के 31 जलाशयों में सिर्फ 14 प्रतिशत पानी बचा है, जबकि उत्तर भारत के 6 जलाशयों में सिर्फ 19 प्रतिशत पानी शेष है। पश्चिमी भारत के बड़े जलाशयों में 22 प्रतिशत पानी बचा है जो इस समय पिछले साल 27 प्रतिशत था। इसी प्रकार पूर्वी भारत में जलाशयों की स्थिति कुछ अच्छी है।