आईसआईस कस्टमर केयर नंबर

गांव की अनुसूचित जाति बस्ती के कुछ लोग सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान पर राशन लेने जा रहे थे। इसी दौरान जंगली सूकर ने अचानक खेत से निकलकर उन पर हमला कर दिया। हमले में बुढ़नेपुर के मनीष, अमित, प्रियांशु, बाबा व जोखापुर पुरवा के डब्बू पाल घायल हो गए। मनीष सबसे ज्यादा जख्मी हुए हैं। ग्रामीण लाठी-डंडे लेकर दौड़े, लेकिन सूकर भाग निकला। घायलों को एक निजी चिकित्सक के यहां ले जाया गया। जंगली सूकर के आतंक से न सिर्फ बुढ़नेपुर बल्कि आस-पास के अन्य गांवों के लोग भी खौफजदा हैं। बता दें, जंगली सूकर काफी समय से अन्नदाताओं द्वारा खेत में दिन-रात मेहनत कर उगाई गई फसलों को झुंड में घुसकर तबाह कर दे रहे हैं। ग्रामीणों ने वन विभाग व जिला प्रशासन से इस समस्या से निजात दिलाने को ठोस कदम उठाने की मांग की है।