ifc recruitment 2020

एक परिचर्चा सत्र के दौरान धर्मेंद्र प्रधान ने मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान जैसे हिन्दी पट्टी के राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा की फिर जीत का दावा किया. उन्होंने कहा, ‘ये तीन राज्य भाजपा के लिए परंपरागत राज्य हैं जहां पार्टी अपने काम की बदौलत जीत दर्ज करती रही है. प्रधान का यह बयान ऐसे समय आया है जब एक दिन पहले एग्जिट पोल में मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भाजपा के लिए चुनौतीपूर्ण स्थिति और राजस्थान में हार का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया था. यह पूछे जाने पर कि इन राज्यों के परिणाम का क्या प्रभाव पड़ेगा ? इस पर  भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि हर चुनाव दूसरे चुनाव को प्रभावित करता है. भारतीय राजनीति में 2014 के बाद बदलाव आया है और अब विकास एजेंडे में शीर्ष पर आ गया है. साल 1990 के बाद ऐसा दौर भी था, जब देश ने गठबंधन का अनुभव किया.